फरीदाबाद- हरियाणा सरकार के तहत चलाए जा रहे ऑपरेशन मुस्कान के तहत पुलिस आयुक्त राकेश कुमार आर्य व डीसीपी क्राइम हेमेंद्र कुमार मीणा के दिशा निर्देश के तहत कार्रवाई करते हुए क्राइम ब्रांच कैट प्रभारी सरजीत सिंह की टीम ने नाबालिंग बच्चों को रेस्क्यू कर उनके जीवन को सही दिशा दिखाने के लिए व उनकी देखभाल के लिए परिजनों को प्रेरित करने का सराहनीय कार्य किया है।

पुलिस प्रवक्ता सूबे सिंह ने बताया कि ऑपरेशन मुस्कान के तहत कार्य करते हुए क्राइम ब्रांच कैट की टीम ने फ़रीदाबाद के अलग अलग स्थानों से 5 नाबालिक बच्चो को लावारिस अवस्था में घूमते हुए भीख मांगते हुए रेस्क्यू किया है जिसमें दो लड़के और तीन लड़कियां शामिल हैं। जिसमें बच्चों की उम्र क्रमशः 4,6,8,12 तथा 13 वर्ष है। बच्चो का नाम, पता पूछ कर सीडब्ल्यूसी के आदेशानुसार इनके परिजनों के हवाले किया गया। पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि निर्धनता के चलते कुछ बच्चे अपनी शिक्षा को बीच में ही छोड़कर कार्यों में लग जाते हैं तथा कुछ बच्च भीख माँगने लग जाते हैं जिससे उनकी पढ़ाई अधूरी रह जाती है और वह समाज में एक अच्छे सतर तक नहीं पहुँच पाते तो इसी को ध्यान में रखते हुए उक्त नाबालिग बच्चों के परिजनों को बच्चों की पढ़ाई के लिए प्रेरित किया और हिदायत देते हुए सकुशल बच्चों को परिजनों हवाले किया है। बच्चों के परिजनों ने क्राइम ब्रांच कैट का तहे दिल से धन्यवाद किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here