युवक की गुमशुदगी बारे परिजनों ने कई बार रोड जाम कर किया था धरना प्रदर्शन

किशोर घर से नाराज होकर फुटबॉलर बनने के लिए पहुंचा था कोलकाता, कर रहा था गार्ड की नौकरी

फरीदाबाद: डीसीपी क्राइम हेमेंद्र कुमार मीणा के दिशा निर्देश के तहत कार्रवाई करते हुए क्राइम ब्रांच KAT और थाना सेक्टर 8 की टीम ने 3 सप्ताह से लापता नाबालिक लड़के को तलाश करने का सराहनीय कार्य किया है।

पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि 16 जून को सेक्टर 8 थाने में अपहरण की धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज किया गया था जिसमें लड़के के परिजनों ने बताया कि उनका लड़का 15 जून से लापता है और उसकी कोई खबर नहीं मिल रही है। उनके द्वारा हर जगह लड़के को तलाश करने की कोशिश की परंतु कोई जानकारी नहीं मिली। स्वजनों ने बताया कि उन्होंने अपने दोस्तों रिश्तेदारों के घर पर भी पता किया परंतु वहां भी उनका लड़का नहीं मिला। शिकायत के आधार पर थाना सेक्टर 8 में मुकदमा दर्ज करके लड़के की तलाश के लिए क्राइम ब्रांच KAT को सूचना दी गई। पुलिस हर तरीके से लड़के को तलाश करने की कोशिश कर रही थी परंतु उसकी कोई जानकारी नहीं मिली। लड़के के परिजनों ने इस संबंध में कई बार रोड जाम कर धरना प्रदर्शन भी किया। डीसीपी क्राइम के मार्गदर्शन में क्राइम ब्रांच KAT की टीम ने लड़के के पश्चिम बंगाल के कोलकाता में होने की जानकारी मिली जिसपर क्राइम ब्रांच KAT और थाने की टीम लड़के को लेने के लिए कोलकाता पहुंची। पुलिस टीम ने कड़ी मेहनत करते हुए लड़के को कोलकाता से सकुशल तलाश किया। पुलिस पूछताछ में लड़के ने बताया कि वह अपने परिजनों से नाराज होकर घर छोड़कर चला गया था। वह फुटबॉलर बनने के लिए कोलकाता गया था लेकिन सफल नहीं हुआ और कोलकाता में गार्ड की नौकरी लग गया था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here