फरीदाबाद- हरियाणा सरकार के द्वारा 01 जुलाई से “Operation Smile” के तहत एक विषेश अभियान चलाया गया है। इस अभियान को सफल बनाने के लिए पुलिस आयुक्त राकेश कुमार आर्य के दिशा निर्देशानुसार अपराध शाखा KAT की टीम ने कार्रवाई करते हुए 5 बच्चों को भीख मांगते हुए रेस्क्यू कर उनके जीवन को सही दिशा दिखाने व परिजनों द्वारा उनकी भली प्रकार से देखभाल के लिए प्रेरित करने का सराहनीय कार्य किया है।

पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि “Operation Smile” के तहत कार्य करते हुए अपराध शाखा KAT ने एत्मादपुर गांव के पास से 5 नाबालिक बच्चों को भीख मांगते हुए रेस्क्यू किया है। सभी बच्चों की उम्र 7 से 13 वर्ष के बीच है। भीख मांगने वाले नाबालिक बच्चो व उनके अभिभावकों की काउंसलिंग कराई गई। चेयरपर्सन बाल कल्याण समिति फरीदाबाद ने उपरोक्त बच्चों के परिजनों को हिदायत देकर बच्चों की पढ़ाई के लिए प्रेरित करते हुए बताया कि स्कूली शिक्षा मानवीय समाज के लिए अत्यंत महत्वपूर्ण है। यह एक ऐसा माध्यम है जो हमें ज्ञान, विचारशीलता और व्यक्तित्व के विकास में सहायता प्रदान करता है। स्कूली शिक्षा सामाजिक मान्यताओं, नैतिक मूल्यों, और सही आचार-व्यवहार के बारे में सिखाती है। शिक्षा के माध्यम से हम न केवल अधिकार, योग्यता, और आत्मविश्वास प्राप्त करते हैं, बल्कि हमारे समाज में सकारात्मक परिवर्तन की भी गारंटी होती है। स्कूली शिक्षा हमें समाज से जुड़ाव और सहयोग का आदर्श भी सिखाती है। स्कूली शिक्षा न केवल हमारी व्यक्तिगत विकास की देखभाल करती है, बल्कि हमें सामाजिक, आर्थिक, और राष्ट्रीय विकास के लिए भी तैयार करती है। इसलिए, स्कूली शिक्षा का महत्व बहुत अधिक है। यह हमें सभ्य, समझदार, और उच्च स्तरीय नागरिकों के रूप में बनाती है और हमें एक समृद्ध, समरस, और विकसित समाज की ओर ले जाती है। इस प्रकार बच्चों के माता-पिता को बच्चों को स्कूल भेजने के लिए प्रोत्साहित करते हुए बच्चों को सकुशल उनके परिजनों हवाले किया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here