-समाधान शिविर में अधिकारियों का उपस्थित होना अनिवार्य : उपायुक्त नेहा सिंह

-लंबित शिकायतों के जल्द से जल्द समाधान करवाने के संबंधित अधिकारियों को दिए निर्देश

जिला उपायुक्त नेहा सिंह ने जिला के विभागों के अधिकारियों के साथ समाधान शिविर में आ रही शिकायतों के संबंध में मंगलवार को जिला सचिवायल स्थित सभागार में समीक्षा बैठक लेकर आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। उन्होंने सभी विभागों के अधिकारियों से समाधान शिविर में आ रही शिकायतों के बारे में जानकारी ली और लंबित शिकायतों के जल्द समाधान करवाने के निर्देश दिए।

उन्होंने कहा कि समाधान शिविर प्रदेश के मुख्यमंत्री नायब सिंह सैनी के निर्देशानुसार आमजन की समस्याओं का जल्द से जल्द समाधान करवाने के लिए जिला व उपमंडल स्तर पर लघु सचिवालय में हर कार्यदिवस पर सुबह 9 से 11 बजे तक आयोजित किए जा रहे हैं। समाधान शिविर की मॉनीटरिंग स्वयं मुख्यमंत्री नायब सिंह सैनी कर रहे हैं, इसलिए संबंधित विभागों के अधिकारी इन शिकायतों के समाधान में किसी भी स्तर पर लापरवाही न बरतें। इसके अलावा उन्होंने कहा कि हर कार्यदिवस पर सुबह 9 से 11 बजे तक लगाए जा रहे समाधान शिविर में सभी विभागों के अधिकारियों की उपस्थिति होना अनिवार्य है। यदि कोई अधिकारी किसी कारणवश समाधान शिविर में नहीं आता है तो उसके बारे में पहले ही सूचना देते हुए अपने अधीनस्थ अधिकारी को समाधान शिविर में अवश्य भेंजे। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि समाधान शिविर में आ रही शिकायतों का जल्द से जल्द समाधान करवाएं और उसे समाधान शिविर को लेकर बनाए गए पोर्टल पर अपडेट करना सुनिश्चित करें। बैठक में एसडीएम नरेंद्र कुमार, एसडीएम रणवीर सिंह, सीटीएम अप्रतिम सिंह, उप सिविल सर्जन डा. रामेश्वरी, जिला शिक्षा अधिकारी अशोक कुमार बघेल समेत संबंधित विभागों के अधिकारी मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here